🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞
⛅ *दिनांक 10 दिसम्बर 2017*
⛅ *दिन – रविवार*
⛅ *विक्रम संवत – 2074*
⛅ *शक संवत -1939*
⛅ *अयन – दक्षिणायण*
⛅ *ऋतु – हेमंत*
⛅ *गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार मास – मार्गशीर्ष*
⛅ *मास – पौष*
⛅ *पक्ष – कृष्ण*
⛅ *तिथि – अष्टमी रात्रि 01:11 तक तत्पश्चात नवमी*
⛅ *नक्षत्र – पूर्वाफाल्गुनी शाम 05:36 तक तत्पश्चात उत्तराफाल्गुनी*
⛅ *योग – प्रीति रात्रि 02:54 तत्पश्चात आयुष्मान्*
⛅ *राहुकाल – शाम 04:33 से शाम 05:53 तक*
⛅ *सूर्योदय – 07:05*
⛅ *सूर्यास्त – 17:56*
⛅ *दिशाशूल – पश्चिम दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण – हनुमान अष्टमी*
💥 *विशेष – अष्टमी को नारियल का फल खाने से बुद्धि का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
💥 *रविवार और अष्टमी तिथि के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)*
💥 *रविवार के दिन मसूर की दाल, अदरक और लाल रंग का साग नहीं खाना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75.90)*
💥 *रविवार के दिन काँसे के पात्र में भोजन नहीं करना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75)*
💥 *स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन करना चाहिए। इससे ब्रह्महत्या आदि महापाप भी नष्ट हो जाते हैं।*
🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞

🌷 *हनुमान अष्टमी* 🌷
🙏🏻 *धर्म ग्रंथों के अनुसार,पौष मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को हनुमान अष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 10 दिसंबर,रविवार को है। मान्यता के अनुसार,इस दिन हनुमानजी को चोला चढ़ाने व कुछ विशेष उपाय करने से हर बिगड़ा काम बन जाता है और साधक पर हनुमानजी की विशेष कृपा होती है। इस दिन हनुमानजी को प्रसन्न करने के लिए क्या उपाय करें*
👉🏻 *गतांक से आगे …….*
🌷 *करें हनुमान यंत्र की पूजा* 🌷
🙏🏻 *सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद किसी शांत एवं एकांत कमरे में पूर्व दिशा की ओर मुख करके लाल आसन पर बैठें। स्वयं लाल या पीली धोती पहनें। अपने सामने चौकी पर लाल कपड़ा बिछाकर हनुमानजी की मूर्ति स्थापित करें। चित्र के सामने तांबे की प्लेट में लाल रंग के फूल का आसन देकर श्रीहनुमान यंत्र को स्थापित करें। यंत्र पर सिंदूर से टीका करें और लाल फूल चढ़ाएं। मूर्ति तथा यंत्र पर सिंदूर लगाने के बाद धूप, दीप, चावल, फूल व प्रसाद आदि से पूजन करें। सरसों या तिल के तेल का दीपक एवं धूप जलाएं-*
*ध्यान- दोनों हाथ जोड़कर हनुमानजी का ध्यान करें-*
🌷 *ॐ रामभक्ताय नम:। ॐ महातेजसे नम:। ॐ कपिराजाय नम:। ॐ महाबलाय नम:।*
*ॐदोणाद्रिहराय नम:। ॐ सीताशोक हराय नम:।*
*ॐ दक्षिणाशाभास्कराय नम:। ॐ सर्व विघ्न हराय नम:।*
*आह्वान- हाथ जोड़कर हनुमानजी का आह्वान करें-*
*हेमकूटगिरिप्रान्त जनानां गिरिसामुगाम्।*
*पम्पावाहथाम्यस्यां नद्यां ह्रद्यां प्रत्यनत:।।*
🙏🏻 *विनियोग- दाएं हाथ में आचमनी में या चम्मच में जल भरकर यह विनियोग करें-*
*अस्य श्रीहनुमन्महामन्त्रराजस्य श्रीरामचंद्र ऋषि: जगतीच्छन्द:, श्रीहनुमान, देवता, ह् सौं बीजं, हस्फ्रें शक्ति: श्रीहनुमत् प्रसादसिद्धये जपे विनियोग:।*
👉🏻 *अब जल छोड़ दें। इस प्रकार श्रीहनुमान यंत्र की पूजा से सभी मनोकामना पूरी होती हैं।*
🌷 *रोग ठीक करने के लिए उपाय* 🌷
🙏🏻 *चांदी से बनी हनुमान प्रतिमा की पूजा करें। इसके बाद इस प्रतिमा को एक अन्य बर्तन में स्थापित कर इस पर धीरे-धीरे चम्मच से पानी डालते रहें। साथ ही ॐ हं हनुमतये नम: मंत्र का जप भी करते रहें। अब इस पानी को किसी साफ बोतल में भरकर रख लें। जब भी परिवार में कोई बीमार हो, तो उसे यह पानी थोड़ा-थोड़ा पिलाते रहें। इससे रोगी जल्दी ठीक हो सकता है। साथ ही, डॉक्टरी उपचार भी अवश्य करवाएं।*
🌷 *शाम को जलाएं दीपक* 🌷
*हनुमान अष्टमी की शाम को समीप स्थित किसी हनुमान मंदिर में जाएं और हनुमानजी की प्रतिमा के सामने एक सरसों के तेल का व एक शुद्ध घी का दीपक जलाएं। इसके बाद वहीं बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमानजी की कृपा पाने का ये एक अचूक उपाय है।*
🌷 *करें राम रक्षा स्त्रोत का पाठ* 🌷
*सुबह स्नान आदि करने के बाद किसी हनुमान मंदिर में जाएं और राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करें। इसके.. बाद हनुमानजी को गुड़ और चने का भोग लगाएं। जीवन में यदि कोई समस्या है, तो उसका निवारण करने के लिए प्रार्थना करें।*

।।ॐ श्री हरि।।

Leave a Reply