पूर्णिया ज़िले के धमदाहा के एक घरारी गांव में रंजन यादव को शराब पीना काफी महंगा पड़ गया . देसी शराब पीने के बाद जब वो घर आता था तो बच्चे और घर के अन्य सदस्यों के साथ मार पीट करता था . घर के लोगो ने कई बार समझाने की कोशिश की लेकिन हर कोशिश विफल रही .

धीरे धीरे शराबी का हौसला बढ़ता ही चला गया अब वो घर के अलावे अपने आस पास के लोगो को भी परेशान करने . पडोसी तो इस शराबी को देखते ही घर में दुबक जाते थे . रंजन जब भी घर आता परिजनों के साथ मारपीट करता .

आख़िरकार परिजनों का सब्र का बाँध टूट गया जिसके बाद घर के लोगो ने बांस में टांग कर घर से तीन किलोमीटर की दुरी पे मीरगंज थाने में शराबी को पहुंचा दिया . बांस में इस तरह टांग के ले जाते हुए शराबी को देखने के लिए भाड़ी भीड़ जमा हो गई ..मेडिकल जांच में अलकोहल की पुष्टि हुई और नशेड़ी अब जेल का हवा खा रहा है .

Leave a Reply