राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के नेता इंद्रेश कुमार ने सोमवार को कहा कि मॉब लिंचिंग जैसे अपराध रुक सकते हैं यदि लोग बीफ खाना बंद कर दें। उन्होंने इस तरह के मामले में ‘संस्कार’ की भूमिका पर जोर दिया। राजस्थान के अलवर में गोतस्करी के आरोप में हुई रकबर खान की हत्या पर पूछे गए सवाल के जवाब में इंद्रेश कुमार ने यह बात कही। मुस्लिमों के बीच काम काम करने वाले आरएसएस के संगठन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने यह भी कहा, ‘मॉब लिंचिंगका स्वागत नहीं किया जा सकता है लेकिन लोग गाय का मीट खाना बंद कर दें तो इस तरह के अपराधों पर लगाम लग जाएगी।

इंद्रेश कुमार ने कहा, ‘ किसी भी भीड़ की हिंसा वो आपके घर की ,मोहल्ले की, जाति की, पार्टी की हो, वो कभी भी अभिनंदनीय नहीं हो सकती। परंतु, दुनिया के जितने भी धर्म है, उनके किसी एक धर्म स्थल पर बता दो की गाय का वध होता है।’

आरएसएस नेता ने आगे कहा, ‘जीसस धरती पर गौशाला में आए, इसलिए वहां गाय को माता बोलते हैं। मक्का-मदीना में गाय का वध अपराध मानते हैं। क्या हम संकल्प नहीं कर सकते की धारा, मानवता को इस पाप से मुक्त कराएं। अगर मुक्त हो जाए तो आपकी समस्या यानि (मॉब लिंचिंग) का हल हो जाएगा।’ कुमार ने आगे कहा, किसी भी मॉब की हिंसा, वो आपके घर की, मोहल्ले की, जाति कि, पार्टी की हो, वो कभी भी अभिनंदनीय नहीं हो सकती। परंतु, दुनिया के जितने भी धर्म हैं, उनके किसी एक धर्म स्थाल पर बता गो कि गाए का वध होता है।

Leave a Reply