आज देश को आजादी मिले हुए 70 साल से अधिक हो गए लेकिन फिर भी विडंबना है कि इन 70 सालों में भी देश के कई इलाकों में बिजली जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं हो पायी हैं। इसे देश का दुर्भाग्य कहें या जनता के चुने गए प्रतिनिधियों की अकर्मण्यता?यह अभिशाप अभी तक हमारे देश के दूरदराज के कई गांवों और पिछड़े इलाके झेल रहे थे । लेकिन देश मे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की राजग सरकार बनते ही देश की इन मूलभूत समस्याओं पर गम्भीरता पूर्वक ध्यान देते हुए इनके क्रियान्वन की दिशा में कार्य करना शुरू कर दिया ।

लालकिले पर लिए गए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के 1000 दिनों में देश के उन क18500 गांवों में बिजली पहुंचाने का संकल्प अब वास्तव में धरातल पर प्रतिभूत होते हुए दिख रहा है। देश के इतिहास में अब उन क्षेत्रों में भी बिजली की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है जहां आज तक बिजली कभी देखने को नहीं मिली।
सारण जिले का एक ऐसा ही गांव है मोहम्मदपुर जहां आजादी के 7 दशकों तक बिजली की सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाई थी। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की सबको बिजली पहुंचाई योजना के अंतर्गत क्षेत्र के इस गांव में अब जाकर बिजली पहुंच पाई है। पिछले 6 महीने से ही यह कार्य शुरु हो गया था जो कि अब जाकर पूर्ण हुआ है। सबसे बड़ी बात है कि यह गांव बड़ा है और उसको देखते हुए इस गांव में 3 ट्रांसफार्मर लगाए गए हैं।
बिजली की सुविधा मिलने पर इस गांव के लोगों को अब एक नई रोशनी मिली है। सभी ग्रामवासी और क्षेत्र के लोग बहुत ही आनंदित और खुश हैं। उनका कहना है कि पहले मोबाइल तक चार्ज करने के लिए 3 किलोमीटर दूर बाजार में जाना पड़ता था लेकिन अब यह सुविधा हमें घर बैठे ही मिल जाएगी। बिजली आने से अब सूचना क्रांति के साथ अन्य सभी साधन भी उपलब्ध हो जाएंगे।
गांव के रहनेवाले राजेश भारती का कहना है कि मोदी जी ने आजादी के 70 सालों बाद सारण जिले के इस गांव के लोगो को भी बिजली की आपूर्ती को पूरा कर दिया जिससे हमारा गांव अभी तक वंचित था। इस अतुलनीय कार्य के लिए मोदी जी एवं नीतीश जी को हम सब ग्रामवासी धन्यवाद देते हैं।

Leave a Reply