उत्तर प्रदेश से प्रकाशित एक प्रमुख हिंदी दैनिक में छपे खबर के अनुसार तेजप्रताप यादव ने सवर्णों द्वारा एससी-एसटी एक्ट के विरोध को जायज बताया।

दरअसल , बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव शुक्रवार देर रात्रि मथुरा के राधारानी के दरबार में पहुंचे। राधारानी संगम कुंड पर पूजा-अर्चना कर परिवार पर आए संकट के निवारण को प्रार्थना की। उन्होंने सवर्णों द्वारा एससी-एसटी एक्ट के विरोध को जायज बताया। उन्होंने कहा कि राजनीति जैसे तोहमत से जूझती बीजेपी फिलहाल उससे बड़े धर्मसंकट में फंस गई है। कभी ब्राह्मण-वैश्य की पार्टी के तौर पर मशहूर रही बीजेपी को हर तबके के वोट मिलने जरूर लगे थे, लेकिन एससी-एसटी एक्ट को लेकर सवर्ण समाज उससे हद से ज्यादा नाराज हो गया है।

इसका प्रमाण छह महीने के भीतर होने वाले विधानसभा चुनाव मध्यप्रदेश और राजस्थान में देखने को मिलेगा। सवर्णों का मानना है कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश कानून का फर्जी इस्तेमाल रोकना था, लेकिन वोट बैंक के चक्कर में मोदी सरकार ने उसे पलट दिया। भाजपा सरकार सवर्णों को धोखा दे रही है।

Leave a Reply