मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने देश के लिए स्वच्छता अभियान को जरूरी बताया। चम्पारण सत्याग्रह शताब्दी के समापन समारोह में उन्होंने कहा कि इससे देश के विकास को और गति मिलेगी।मुख्यमंत्री ने आजादी के बाद देश में स्वच्छता की दिशा में ठीक से काम नहीं होने पर चिंता प्रकट करते हुए कहा कि इस दौरान स्वच्छता पर ठीक से अमल नहीं किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने चंपारण के लोगों को स्वच्छता, स्वास्य और शिक्षा के प्रति जागरूक बनाया। वह स्वच्छता पर जोर देते थे। उन्होंने कहा कि गांधी जी के बाद यदि किसी ने स्वच्छता का मुद्दा उठाया, तो वह समाजवादी चिंतक डॉ. राममनोहर लोहिया थे। उन्होंने 50 के दशक में ही कहा था कि यदि देश में महिलाओं के लिए शौचालय का निर्माण हो जाये, तो वह तत्कालीन प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू का विरोध करना छोड़ देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता की 150वीं जयंती के अवसर पर देश को खुले में शौच से मुक्त (ओडीएफ) करने का लक्ष्य रखा गया है।

उन्होंने कहा कि बिहार को ओडीएफ की दिशा में ले जाने के लिए तेजी से काम चल रहा है। राज्य सरकार ने प्रदेश को ओडीएफ बनाने के लिए एक अभियान चलाया है। हर घर में नल का जल, बिजली एवं पक्की गली-नाली उपलब्ध कराने के लिए भी काम कर रही है। उन्होंने कहा कि यदि पीने का स्वच्छ पानी और खुले में शौच से मुक्ति मिल जाए तो होने वाली 90 प्रतिशत बीमारियों से छुटकारा मिल जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा, स्वच्छता के साथ-साथ हमें एक दूसरे की इज्जत करनी चाहिए। प्रेम और सद्भाव के साथ ही देश आगे बढ़ सकता है, तनाव और टकराव से नहीं। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आास्त करना चाहता हूं कि राज्य सरकार लोगों को खुले में शौच से मुक्त करेगी। जिस गरीब के पास शौचालय नहीं है, उनके लिए कई शौचालय एक साथ बनाने की हमारी योजना है। बिहार में शौचालय निर्माण के बाद प्रत्येक परिवार को शौचालय की एक चाबी दे दी जाती हैं। वहीं, शौचालय बनाने के लिए सरकार 8000 रुपये देती है और केंद्र से चार हजार रुपये मिलते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘गांधी जी के बिहार आगमन का आज 101वां साल है।

हमारा संकल्प है कि हम घर-घर तक गांधीजी के विचारों को पहुंचाएंगे। गांधी जी का कथावाचन प्रत्येक स्कूल में कराया जाएगा। कथा संग्रह का काम पूरा कर लिया गया है। उनके विचारों से नई पीढ़ी को अवगत कराना है। यदि 10 से 15 प्रतिशत लोगों ने भी गांधी जी के विचारों को अपना लिया तो समाज और देश बदल जायेगा।

( एस एन बी  )

Leave a Reply