बिहार एक ऐसा प्रदेश रहा है जहाँ प्रतिभायें हर घर में जन्म लेती हैं. बिहारियों से ज्ञान-विज्ञान का कोई भी क्षेत्र अछुता नहीं रहा है. ना केवल प्राचीन काल में,बल्कि आज भी बिहार निर्विवाद रूप से देश को सबसे ज़्यादा आई आई टी इंजिनियर, आईएएस, डॉक्टर्स देता रहा है. फिल्म और साहित्य में भी बिहार की धाक रही है.

Shaan suhas kumar,Miss earth 2017 participating in phillipins
Shaan suhas kumar,Miss earth 2017 participating in Philippines



आज फिर एक बिहारी विश्व पटल पर अपनी छाप छोड़ने को बेकरार है. हम बात करने जा रहे हैं बिहार में जन्‍मी शान सुहास कुमार की. २६ साल की शान सुहास कुमार मिस अर्थ 2017 में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहीं हैं. शान सुहास कुमार आरती कुमार(मास ऑनलाइन ओपन कोर्स प्रमुख और ऐसेक यूनिवर्सिटी,भोपाल की सदस्या) और सुहास कुमार(सेवा निर्वित वन पदाधिकारी) की पुत्री हैं. कुमारी शान को सितंबर 2017 में मिस अर्थ , भारत के लिए चुन लिया गया था,इसका फाइनल मनीला,फिलीपींस में नवंबर 4,को होगा.
सुहास मुख्य रूप से पूर्णिया बिहार की हैं जबकि आरती पटना के शालिमपूराहा की हैं.
शान 8 नवंबर को ही फिल्लीपींस पहुँच कर आयोजको द्वारा ट्रैनिंग में भाग ले रहीं हैं.

शान की माता आरती,जो की साइन्स कॉलेज पटना की विद्यार्थी रहीं हैं ने एक इंटरव्यू में कहा की बिहार के लिए ये गर्व की बात है की कोई बिहार की बेटी भारत को इतने बड़े कार्यक्रम में प्रतिनिधित्व कर रही है.

शान 2016में पटना आईं थीं जब दादी राजकुमारी सिन्हा का देहांत हुआ था.पर उसके बाद से हमेशा अपने परिवार के साथ समय बिताने आती रहती हैं. उनकी माता आरती के अनुसार वो WhatsApp के माध्यम से हमेशा शान से संपर्क में रहती हैं और अभी शान मनीला शहर के सुदूर क्षेत्र में स्क्यूबा(Scuba) डाइविंग की ट्रैनिंग ले रहीं हैं.

Shaan suhas kumar,Miss earth 2017 participating in phillipins
Shaan suhas kumar,Miss earth 2017 participating in Philippines

जब आरती से पूछा गया की वो कैसा महसूस करती हैं ये जान कर की उनकी बेटी उस क्षेत्र में चुनी गयीं जिस क्षेत्र को बिहार में कुछ अच्छा नहीं समझा जाता तो उनका जवाब था की शान की परवरिश उन्होने ऐसे परिवेश में की हैं जहाँ बेटे बेटी में कोई भेद भाव नहीं किया जाता.

वो स्वयं भी 3 भाइयों के साथ अकेली बेटी थी,फिर भी उनके माता पिता ने उनकी परवरिश बिना किसी भेदभाव के किया. वो खुद अपने बेटी को रसोईघर तक सीमित करने के खिलाफ हैं.

Shaan Suhas kumar,File photo
Shaan Suhas kumar,File photo

हम शान के सुनहरे भविष्य की कामना करते हुए उनके लिए शुभ कामनायें देते हैं.

यदि आप भी उन्हे जीत के लिए शुभकामनायें देना चाहते हैं तो इसे दोस्तो के साथ शेयर करें

Leave a Reply